BREAKING NEWS
स्कूल के समय में नहीं होगा बदलाव!, शिक्षा विभाग ने पोस्ट कर बता दिए नियम एंबुलेंस से हो रही थी ब्रांडेड शराब की तस्करी, उत्पाद विभाग की टीम डिजाइन को देख हैरान चुनाव बहिष्कार करने वाले सहरौन गांव के निर्दोष ग्रामीणों पर मुकदमा एवं गिरफ्तारी करने की समाजसेवियों... तीन दिन से लापता युवक की गंगा नदी से मिली लाश, प्रोपर्टी डीलर पर आरोप समस्तीपुर में गंगा नदी में डूबे असम राइफल्स के जवान का शव 16 घंटे बाद मिला, परिवार को दी गई सूचना ‘जब तक जिंदा हूं धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं करने देंगे’, मुजफ्फरपुर में बोले पीएम मोदी गया में वज्रपात से महिला समेत चार लोगों की मौत, आधा दर्जन बकरियां भी आईं चपेट में; परिजनों में कोहरा... सीएम नीतीश कुमार की तबीयत इतनी खराब है? लोकसभा चुनाव से ज्यादा इस सवाल पर लोग चिंतित गोपालगंज में प्रेमी जोड़े पर जानलेवा हमला; प्रेमिका की मौके पर मौत, युवक की हालत नाजुक नवादा में टीसी न मिलने से गुस्साए छात्रों ने स्कूल में जड़ा ताला; BEO ने पूर्व प्रभारी को किया निलंब... ढूंढा तो जहर खा लूंगी, तीन महीने भक्ति करने के लिए जा रही हूं, ऐसा लिखकर तीन सहेलियां घर से गायब बेगूसराय के बड़े स्कूल के परिसर में फेंका बम, खिड़की के पास फटा; क्यों और क्या हुआ, जानें कई दिनों से लापता मासूम का मिला शव, अगवा कर हत्या की जताई गई आशंका; पुलिस जांच में जुटी 50 हजार का इनामी कुख्यात गिरफ्तार, पुलिस की आंख में धूल झोंककर काट रहा था फरारी; अब सलाखों के पीछे दो दिन से लापता किशोर का तालाब में मिला शव, भाई ने कहा- मोहित के साथ हुई अप्रिय घटना; पुलिस करे जांच फांसी का फंदा लगाकर किशोरी ने की आत्महत्या, पारिवारिक विवाद के चलते उठाया कदम; पुलिस जांच में जुटी 7 महीने बाद प्रिंसिपल हत्याकांड से उठा पर्दा, 8 लाख के विवाद में हुई थी हत्या; ढाई लाख की दी गई सुपा... रेल पुलिस ने 67 लाख 28 हजार रुपए के साथ एक शख्स को किया गिरफ्तार, जांच में जुटी पुलिस शाहनवाज हुसैन तेजस्वी यादव पर बरसे, क्यों कहा- ..लालू जी का अपमान करने लगते हैं जांघ में थी परेशानी, चली गई जान; डॉक्टर के बगैर खून-स्लाइन चढ़ाने का आरोप, परिजनों ने काटा बवाल
खेल और खिलाड़ी7 मैच में 35 विकेट, तीन बार सेना भर्ती... पढ़ें बिहार के...

7 मैच में 35 विकेट, तीन बार सेना भर्ती… पढ़ें बिहार के लाल मुकेश की दिलचस्प कहानी

गोपालगंज : जिले के एक छोटे से गांव काकड़कुंड के मुकेश कुमार को 2023 में होने वाले आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने 5.5 करोड़ में खरीदा है। उनकी बेस प्राइस मात्र 20 लाख रुपए थी, बेस प्राइस से साढ़े 27 गुना कीमत ज्यादा देकर दिल्ली ने मुकेश को अपनी टीम में शामिल किया है, इस साल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के लिए उन्हें टीम इंडिया में भी चुना गया, हालांकि, मुकेश को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने का मौका नहीं मिल पाया. अब दिल्ली कैपिटल्स ने उन्हें खरीदा है और दिल्ली के लिए मुकेश नेट गेंदबाज भी रहे हैं. अब लोग सोशल मीडिया पर मुकेश को बधाई दे रहे हैं. IPL में ही वह अपनी घातक गेंदबाजी से भारतीय और विदेशी क्रिकेटरों को आउट करेंगे।

मुकेश के कैप्टन रहे अमित कुमार बताते हैं कि हम लोगों ने गोपालगंज के मिंज स्टेडियम में एक टूर्नामेंट करवाया था. जिसमें मुकेश गोपालगंज के सेंट जोसफ स्कूल से खेलने आए थे. टोटल सात मैच खेले थे, जिसमें उन्होंने 35 विकेट लिया था. उसमें उनका एक हैट्रिक विकेट भी था. उनकी प्रतिभा को देख कर उनको आगे के मैच के लिए बुलाया गया. जिसके बाद हेमंत ट्रॉफी टूर्नामेंट में मुकेश का गोपालगंज टीम में चयन हुआ, जो कि बिहार का प्रतिष्ठित टूर्नामेंट है।

वहां भी मुकेश का अच्छा प्रदर्शन रहा. BCA (बिहार क्रिकेट एसोसिएशन) के द्वारा कोई टूर्नामेंट नहीं कराया जाता था, इसके चलते हम लोग गोपालगंज, सिवान, छपरा, बेतिया, मोतिहारी सहित कई जिले में घूम-घूम कर क्रिकेट खेला करते थे. हालांकि उस दौरान मुकेश की आर्थिक स्थिति सही नहीं थी।

कभी थानाध्यक्ष की बनाई टीम में खेलते थे मुकेश
अमित ने बताया कि तब गोपालगंज में एक क्रिकेटर थानाध्यक्ष आरके सिंह आये थे. उन्होंने मुकेश की आर्थिक रूप से मदद की और हुनर को पहचान कर आगे बढ़ने का हौसला दिया. सिर्फ मुकेश को ही नहीं जिले के कई क्रिकेटर की थानाध्यक्ष आरके सिंह ने मदद की थी. बिहार में सद्भावना कप की शुरुआत उन्होंने ही किया था. साथ ही खुद ही बिहार टीम बनाए थे. जिसमें मुकेश को खेलने का मौका भी दिए थे. आरके सिंह ने मुकेश के हुनर को देखते हुए अपने मित्र राजेश चौहान के पास जाने की बात कही थी और और गोपालगंज छोड़ कर बाहर निकलने की बात कही थी

इसे भी पढ़ें :
कौन हैं जितेश शर्मा? जिन्होंने संजू सैमसन की जगह टीम इंडिया में मारी एंट्री... IPL में दिखा चुके हैं दम

सेना में बहाली के लिए तीन बार की थी कोशिश
बता दें की सेना में जाने के लिए मुकेश ने तीन बार कोशिश की थी और हर बार असफल रहे थे. पूर्व में क्रिकेटर मुकेश का गोपालगंज के भोजपुरवा के पास एक्सीडेंट हो गया. जिसमें मुकेश को काफी चोट आई थी. उस वक्त मुकेश के पिता को लगा की उन्हें यहां रखना ठीक नहीं है, तो उसे कोलकाता बुला लिया. वे वहां खुद की टैक्सी चलाया करते थे. फिर मुकेश अपने पिता के साथ रहते हुए कोलकाता में ही खेलने लगे. आज आईपीएल में दिल्ली केपिटल की टीम में चुने गए हैं.

Disclaimer : यह न्यूज़ प्रभासाक्षी से फीड के माध्यम से ली गई है

सम्बन्धित खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेखक की अन्य खबरें